आपकी जुदाई भी हमें प्यार करती हैं

आपकी जुदाई भी हमें प्यार करती हैं, आपकी याद बहोत बेकरार करती हैं, जाते-जाते कहीं भी मुलाकात हो जाये आपसे, तलाश आपको ये नज़र बार बार करती हैं!!

Read More

बिछड़ के तुम से ज़िंदगी सज़ा सी लगती है

बिछड़ के तुम से ज़िंदगी सज़ा सी लगती है, ये साँस भी जैसे मुझ से खफा सी लगती है, तड़प उठता हूँ दर्द के मारे ज़ख़्मों के, जब तेरे शहर की हवा लगती है, अगर उम्मीद-ए-वफ़ा करूँ तो किस से करूँ, मुझको तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफ़ा सी लगती है!!

Read More

हाल अपना तुम्हे बताना क्या

हाल अपना तुम्हे बताना क्या, चीयर के दिल तुम्हे दिखाना क्या, वही रोना है सदा का अब भी, दास्ताँ फिर वही दोहराना क्या, बेक़राररी ही है जुदाई में, गम की बाते तुम्हे सुनाना क्या, मेरी चुप्पी में तेरी मोहब्बत है, बेवजह होठों को हिलाना क्या!!

Read More

हमने इन रस्मो और रिवाज़ों से बग़ावत की है

हमने इन रस्मो और रिवाज़ों से बग़ावत की है, हमने बेपनाह तुमसे मोहब्बत की है, दुआओं में जिसे था कभी मांगा, आज उसी ने जुदा होने की चाहत की है!!

Read More