काश फिर मिलने की वो वजह मिल जाए

काश फिर मिलने की वो वजह मिल जाए, साथ जितना भी बिताया वो पल मिल जाए, चलो अपनी अपनी आँखें बंद कर लें, क्या पता ख्वाबो मैं गुजरा हुआ कल मिल जाए!! Good Night

Read More

दुनिया है पत्थर की ये जज़्बात नहीं समझती

दुनिया है पत्थर की ये जज़्बात नहीं समझती, दिल में जो छुपी है वो बात नहीं समझती, चाँद तन्हा है तारो की बारात में, पर ये दर्द ज़ालिम रात नहीं समझती!!

Read More

तेरे बिना कैसे गुज़रेंगी ये राते

तेरे बिना कैसे गुज़रेंगी ये राते, तन्हाई का गम कैसे सहेंगी ये राते, बहोत लम्बी है ये घड़ियां इंतज़ार की, करवट बदल बदल कर कटेंगी ये राते!! Good Night My Love

Read More