सामने ना हो तो तरसती हैं आँखे

सामने ना हो तो तरसती हैं आँखे,
बिना तुम्हारे बहोत बरसती हैं आँखे,
हमारे लिए न सही इनके लिए ही आ जाओ,
क्योंकि तुमसे बेपनाह प्यार करती हैं आँखे!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *