ना जाने मोहब्बत में

ना जाने मोहब्बत में कितने अफसाने बन जाते है, शमा जिसको भी जलाती है, वो परवाने बन जाते है, कुछ हासिल करना ही इश्क कि मंजिल नहीं होती, किसी को खोकर भी, कुछ लोग दिवाने बन जाते है!!

Read More

पत्थर जैसी दुनिया में

पत्थर जैसी दुनिया में दिल अपना लगा बैठे, कुछ ही दिनों में मीठे सपने सज़ा बैठे, रोकते थे पहले लोगों को इस आग से, अब खुद ही को इस आग में जला बैठे!!

Read More

होती है महसूस तेरी मौजूदगी

होती है महसूस तेरी मौजूदगी हर पल, तू हर वक्त मुझमें शुमार सा है, मेरे खुदा ने मुझको बख्शी हैं जितनी सांसें, उन सांसों का तू भी हिस्सेदार सा है!!

Read More

दिल अपने आप धड़कता है

दिल अपने आप धड़कता है, धड़काया नहीं जाता, ये राज़-ए-मोहब्बत हर एक को बताया नहीं जाता, अगर एहसास हो तो मोहब्बत को कर लो महसूस, ये वो जज़्बा है जो लफ़्ज़ों में समझाया नहीं जाता!!

Read More

बस खुशियाँ ही पाई हैं

बस खुशियाँ ही पाई हैं तेरे इश्क़ की छाव में, कई मंज़िलें पाई हमने इस इश्क़ की राहों में, एक प्यार तेरा पाकर लगता है पा लिया है सब कुछ, बस आख़िरी ख्वाहिश है दम निकले तेरी बाहों में!!

Read More

आ जाओ किसी रोज

आ जाओ किसी रोज तुम्हारी रूह मे उतर जाऊँ, साथ रहूँ मैं तुम्हारे ना किसी और को नज़र आऊँ, चाहकर भी मुझे छू ना सके कोई इस तरह, तुम कहो तो यूँ तुम्हारी बाहों में बिखर जाऊँ!!

Read More