कहा ये किसने कि फूलों से

कहा ये किसने कि फूलों से दिल लगाऊं मैं, अगर तेरा ख्याल ना सोचूं तो मर जाऊं मैं, माँग ना मुझसे तू हिसाब मेरी मोहब्बत का, आ जाऊं इम्तिहान पर तो हद से गुज़र जाऊं मैं!!

Read More

किसी ना किसी पर यूँ ऐतबार हो जाता है

किसी ना किसी पर किसी को यूँ ऐतबार हो जाता है, अजनबी कोई शख्श यार हो जाता है, खूबियों से नहीं होती मोहब्बत सदा, कमियों से भी किसी को अक्सर प्यार हो जाता है!!

Read More

वो मोहब्बतें जो आपके दिल में हैं

वो मोहब्बतें जो आपके दिल में हैं, उसे अपनी जुबां पर लाओ और बयां कर दो, आज सिर्फ तुम कहो और कहते ही जाओ, हम बस सुनें ऐसे बे-ज़ुबान कर दो!!

Read More

हसरत है सिर्फ और सिर्फ तुझे पाने की

हसरत है सिर्फ और सिर्फ तुझे पाने की, और कोई ख्वाहिश नहीं इस दीवाने की, शिकवा मुझे तुझसे नहीं खुदा से है, क्या ज़रूरत थी तुझे इतना खूबसूरत बनाने की!!

Read More